बहुत हो चुकी अब कहा सुनी

लवों को दो अब विराम ,
बहुत हो चुकी अब कहा सुनी ,
छेड़ दो युद्ध की तान ,
बहुत हो चुकी अब कहा सुनी ,

कर दो शंखनाद
बाज दो रणभेरी,
पूरा नुक्लेअर आर्सेनल
कर दो अब रेडी ,

जो तुम न मानोगे
तो हम खार न खाएंगे ,
छाती पर चढ़ कर,
मर्दन कर आएंगे ,

हमें कहते हैं हिंदुस्तान ,
हम से जो खेले ,
तो या खुदा ,कराची से लाहौर
तक जाओगे पेले !!!!

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s